प्रेम प्रसंग से नाराज पिता ने बेटी को उसके प्रेमी के साथ उतारा मौत के घाट, चंबल नदी में फेंके शव

0
122

MP News: एसआरडीएफ की टीम और गोताखोर अब तक शवों को नहीं ढूंढ़ पाए हैं. वहीं नदी के आसपास रहने वालों ने बताया कि चंबल नदीं में मगरमच्छ ज्यादा होने की वजह से शव मिल पाना मुश्किल है.
MP Crime News: मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में एक व्यक्ति ने अपने रिश्तेदारों के साथ मिलकर अपनी बेटी और उसके प्रेमी की कथित तौर पर गोली मारकर हत्या कर दी और दोनों शवों को चंबल नदी में फेंक दिया. इस घटना के बाद इलाके में सनसनी फैल गई है.
वहीं अंबाह पुलिस थाना प्रभारी विनय यादव ने बताया कि राजपाल सिंह तोमर (55) ने तीन जून को अपनी बेटी शिवानी (19) और उसके प्रेमी राधेश्याम तोमर (21) की गोली मारकर हत्या कर दी. उन्होंने कहा कि राजपाल ने दोनों के शवों को चंबल नदी में फेंकने की बात कबूल की है.

रिश्तदारों को हिरासत में लिया
उन्होंने कहा, “तोमर और उसके दो रिश्तेदारों को शनिवार को हिरासत में लिया गया और उनके बयान रिकॉर्ड किए गए. राधेश्याम के पिता लखन तोमर की शिकायत पर उन्हें हिरासत में लिया गया. शवों को निकालने के लिए पिछले दो दिनों से एसआरडीएफ के कर्मियों एवं गोताखोरों को लगाया गया है.”

अभी तक नहीं मिले शव
यादव ने कहा कि एसआरडीएफ की टीम और गोताखोर अब तक शवों को नहीं ढूंढ़ पाए हैं. हमारी कोशिश जारी है. उन्होंने बताया कि अंबाह थाना क्षेत्र के एक गांव की शिवानी का प्रेम प्रसंग पड़ोसी गांव बालूपुरा के राधेश्याम के साथ था. एक ही जाति का होने के कारण इन दोनों के प्रेम प्रसंग पर दोनों के परिवार को कड़ा ऐतराज था.

5 दिन पहले दी थी धमकी

पुलिस ने बताया कि तीन जून से लड़का और लड़की दोनों गायब थे. लखन तोमर ने संवाददाताओं को बताया कि राधेश्याम के लापता होने से पांच दिन पहले आरोपी राजपाल ने उसे फोन किया था और कहा था कि वह अपने बेटे को गांव से दूर भेज दे या परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहे.

उन्होंने कहा कि वह आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर तीन जून से स्थानीय पुलिस थाने और पुलिस अधीक्षक कार्यालय के चक्कर लगा रहे हैं, ताकि ऐसा ना हो कि वे सबूत नष्ट कर दें. लखन ने कहा, “लेकिन पुलिस ने केवल गुमशुदगी की शिकायत दर्ज की और दावा किया कि दोनों भाग गए हैं.”

नदी में हैं काफी मगरमच्छ
हालांकि, थाना प्रभारी यादव ने कहा कि सबूतों और नियम पुस्तिका के अनुसार शवों को बरामद करने के बाद हत्या का मामला दर्ज किया जाएगा. नदी के आसपास के निवासियों ने कहा कि शवों को निकालना मुश्किल हो सकता है क्योंकि इस नदी में मगरमच्छ और घड़ियाल बड़ी तादाद में रहते हैं. चंबल नदी, यमुना की एक सहायक नदी है, जो मध्य प्रदेश से निकलती है और राजस्थान और उत्तर प्रदेश से होकर बहती है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here